महिलाओं के केश दान से फल-फूल रहा है इंटरनेशनल मार्केट

5

तिरूपति भगवान वेंकटेश्वर के प्रसिद्ध पहाड़ी मंदिर में हर दिन हजारों लोग खासकर महिलाएं अपने बालों का त्याग कर देती हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि इन चढ़ाय हुए बालों से अरबों का होता है।

दरअसल तमिलनाडु के तिरूथतानी धर्मस्थल में बड़ी संख्या में महिलाएं अपनी मन्नत पूरी हो जाने के बाद मुण्डन कराती हैं या फिर मन्नत मांगने के लिए वो ऐसा करती हैं।

आपको बतादें कि मंदिर, मुण्डन से मिले बालों की नीलामी की जाती है। DAILY MAIL पर छपी खबरों की मानें तो चीन हर महीने इस मंदिर से काफी कम पैसों में बालों को खरीदता है। उसके बाद वह उसे यूरोप के देशों के बड़े-बड़े पार्लर को बेचता है। खबरों की मानें तो चीम इससे अरबों का बिजनेस कर रहा है।

सिर्फ चीन ही नहीं इन इन बालों से बने विगों को बाद में अमरीका, यूरोप और अफ्रीका में अच्छी खासी कीमत पर बेचा जाता है आपको यह बात जानकर हैरानी होगी कि लाखों की संख्या में यहां भक्त आते हैं जिनमें से प्रतिदिन 20,000 भक्त अपने बाल दान करके जाते हैं। इस कार्य को संपन्न करने के लिए मंदिर परिसर में करीब 600 नाइयों को भी रखा गया है।
हाल ही में आई एक सर्वे की मानें तो अगर भारत में इस मंदिर में बालों का चढ़ावा ना दिया जाए तो दुनिया की hair-extensions का बिजनेस ठप पड़ जाएगा।

शेयर करें