कर रहा था गौमांस खाने की मांग, सुरेश चव्हाणके से सामना हुआ तो ?…

3

सुरेश चव्हाणके, ऐसा कौन सा राष्ट्रवादी होगा जो इनको नहीं जनता होगासुदर्शन न्यूज़ के मालिक तथा “बिंदास बोल” नाम के शो में मशहूर होस्ट

सुरेश चव्हाणके अपने कार्यक्रम में ट्रिपल तलाक पर बहस कर रहे थे, वो अक्सर आम लोगो से शो के दौरान फ़ोन पर बात करते है
अपने शो में आम लोगों की भी राय लेते रहते है

बदायूं के एक मुस्लमान ने सुरेश चव्हाणके को शो के दौरान फ़ोन किया और अपने मजहबी जिहाद का प्रदर्शन किया, पर वो मुसलमान भूल गया की वो किसी बरखा दत्त से नहीं बल्कि सुरेश चव्हाणके से
बात कर रहा था

देखें हुआ क्या

मुस्लमान ने ट्रिपल तलाक छोड़, अपने मजहबी जिहाद का प्रदर्शन करते हुए कहा की, “उत्तर प्रदेश में हमे भी गाय के मांस को खाने की छूट मिलनी चाहिए”

इसपर सुरेश चव्हाणके के अपना हिन्दू रूप उसे दिखाया और उसी के अंदाज में बोले, “आपको सुवर का मांस खाने की भी छूट चाहिए क्या”

1 ही सेकंड में जिहादी ने फ़ोन काट और भाग खड़ा हुआ
आप देख सकते है ये जिहादी तत्व सेकुलरिज्म के लायक नहीं है, ये अपनी महिलाओ को हमेशा गुलाम बनाये रखना चाहते है, हलाला के नाम पर बलात्कार का धंधा चलाना चाहते है
और कोई सवाल उठाये तो दूसरों की धार्मिक आस्था पर चोट करने लगते है

ऐसे कट्टरपंथी समाज के प्रति हिन्दुओ को भी सुरेश चव्हाणके जैसा ही होना होगा, क्योंकि कट्टरपंथ का जवाब सेकुलरिज्म नहीं होता

शेयर करें